प्रेरणा पोर्टल पर छात्र रेजिस्ट्रेशन 2022-23 में आने वाली समस्याएं एवं उनके समाधान

You are currently viewing प्रेरणा पोर्टल पर छात्र रेजिस्ट्रेशन 2022-23 में आने वाली समस्याएं एवं उनके समाधान

प्रेरणा पोर्टल पर छात्र रेजिस्ट्रेशन 2022-23 में आने वाली समस्याएं एवं उनके समाधान

नोट- सत्र- 2022-23 में जिन नवीन छात्रों का रजिस्ट्रेशन यदि प्रेरणा पोर्टल पर अध्यापक के लॉग इन से हो चुका है तो उनका रजिस्ट्रेशन प्रेरणा DBT App के द्वारा नहीं किया जायेगा |

यदि नवीन छात्रों का रजिस्ट्रेशन अभी किसी भी दशा मे नहीं हुआ है तो उन छात्रों का रजिस्ट्रेशन प्रेरणा DBT App अथवा प्रेरणा पोर्टल (Teacher Login) दोनों मे से किसी एक के द्वारा किया जायेगा, दोनों जगह नहीं किया जायेगा |

जब तक पिछले सेशन के सभी बच्चे वेरीफाई/डिलीट नहीं होंगे,आप नया नामांकन नहीं कर सकते।

छात्र रेजिस्ट्रेशन में आने वाली समस्याएँ

समस्या- छात्र का नाम प्रवेश पंजिका में और आधार कार्ड में Spelling की वजह से मेल नही खा रहा है, क्या करें?

समाधान: स्पेलिंग त्रुटि से कोई समस्या नहीं है। प्रवेश पंजिका में नाम हिंदी में लिखा जाता है, जबकि आधार सत्यापन हेतु नाम अंग्रेजी में भरा जाना है। इसलिए जैसी स्पेलिंग आधार कार्ड में है, वैसी स्पेलिंग ही सत्यापन के समय प्रेरणा पोर्टल पर अंकित करनी है।

समस्या: प्रवेश पंजिका में बच्चे की कक्षानुसार या वास्तविक/सही उम्र दर्ज है, जबकि आधार में उम्र बहुत कम या ज्यादा है, क्या करें?

समाधान: प्रवेश पंजिका में कोई कटिंग या ओवर राइटिंग नही करनी है। यदि बच्चे की जन्म तिथि, नाम,माता/पिता का नाम आदि विवरण आधार कार्ड में गलत है तो BRC या अन्य आधार केंद्र पर उपलब्ध आधार किट्स के माध्यम से ,आधार में जन्मतिथि आदि विवरण संशोधित कराएं।

समस्या: यदि प्रवेश पंजिका में नाम, जन्मतिथि आदि गलत अंकित हो गई है (जैसे एक ही माता-पिता के 2 बच्चों की जन्मतिथि में 1 साल से कम का अंतर होना) क्या करें?

समाधान: डीबीटी संबंधित कार्य के लिए एक अलग जांच-प्रवेश पंजिका बना कर उसमें बच्चे के प्रवेशांक के साथ सही विवरण, पर्याप्त उपलब्ध साक्ष्यों के आधार पर अंकित कर सकते हैं। प्रवेश पंजिका में उसका संदर्भ दे सकते हैं।

समस्या:पिछले वर्ष के रेजिस्ट्रेशन से छूटे हुए बच्चे पोर्टल पर कैसे दर्ज करें?

समाधान:पिछले वर्ष के रेजिस्ट्रेशन से छूटे हुए बच्चे का वर्तमान में जो कक्षा है वही रखना है,किंतु उसका समस्त विवरण प्रवेश पंजिका में विवरण के अनुसार प्रेरणा पोर्टल पर दर्ज करना है।

समस्या: क्या बच्चे का आधार न होने पर उसका एडमिशन कर सकते हैं?

समाधान: हाँ, उसका आधार रजिस्ट्रेशन के बाद वेरीफाई कर सकते हैं, और बाद में बनवा सकते हैं, किंतु यह ध्यान रहे कि, यदि आपने बच्चे को आधार कार्ड से बाद में वेरीफाई नहीं कराया तो उसे सत्र लाभ जैसे DBT के माध्यम से प्राप्त होने वाली राशि प्राप्त नहीं होगी, अतः आपके यहाँ पंजीकृत प्रत्येक बच्चे का आधार अभी या DBT के लिए जरूरी है।

समस्या: क्या बच्चे के आधार में अभिभावक का आधार लगा होने पर बाद में या new रजिस्ट्रेशन के समय छात्र आधार से वेरीफाई होगा?

समाधान: नहीं, बच्चे के मां या पिता का ही आधार वेरीफाई होगा, अगर बच्चे के माता/पिता जीवित नहीं हैं तो उस स्तिथि में आप ग्राम प्रधान या सभासद से इस आशय का प्रमाणपत्र लेंगे उसके बाद ही अभिभावक का आधार वेरीफाई करेंगे।

नोट- जानकारी की पुष्टि अपने स्तर से अपने आधिकारिक कार्यालय से जरूर कर लें।

Share This Post: